जय गणेश जलसंवर्धन अभियान

पुणे-वासियों ने पुणे-वासियोंके लिये शुरू किया हुआ अभियान याने ’लोग-सहयोगसे पानी’. पुणे शहरको खडकवासला बाँधसे पानी मिलता है. पुणे के लिये यह पानी का मुख्य उगमस्थान है. परंतु पीछले कुछ सालों से इस पानी में गाद (सिल्ट) जमा होने के कारन इस बाँध की पानी जमा कर रखने की क्षमता कम होती जा रही है. पानी के इस बाँध से पुणे-वासियों को पीनेका पानी भी मिलता है और उसके साथ किसानों को खेती के लिये भी पानी मिलता है. पिछले कुछ सालों से पानी की कमी के कारन किसान सिर्फ एकही फसल लेनेपर मजबूर हो गए हैं. शहरवासियों को भी पानी-कटौती का सामना करना पड रहा है.

निवृत्त सेनाधिकारी कर्नल सुरेश पाटिलजी ने अपनी निवृत्ती के बाद खुद को समाजसेवा में लगाया है. वे इस प्रश्नका हल खोजने में जुट गए हैं. राज्य सरकार और कुछ स्वेछा-संस्थाओं ने मिलकर इस प्रश्न का हल ढूँढनेकी कोशीस की, पर उससे कुछ ज्यादा हासिल नहीं हुआ. कर्नल पाटिलजी के इन प्रयासों की जानकारी श्रीमंत दगडुशेठ हलवाई गणपति ट्रस्ट को मिली और ट्रस्ट ने इस प्रश्न को हाथमें लेकर अब ’जलसंवर्धन अभियान’ शुरू किया है.

यह काम बहोत बडा है. इसलिये ट्रस्ट ने इस काम में दूसरे गणेश-मंडलों को और नागरिकों के गुटों को इकट्ठा किया. ट्रस्ट के आवाहन को लगभग ४०० गणेश-मंडलों ने प्रतिसाद दिया और मददके लिये तैयार हुए. दस भारीसे खुदाई-यंत्र और सोलह डंपर्स की सहाय्यता से इस जलाशय में भरी हुई गाद बाहर निकालने का काम शुरू हो गया है. इस काम की रोजाना देखरेख की जिम्मेदारी गणेश-मंडलों को सोंपी गई है. तीन या चार गणेश-मंडलों के सदस्य हररोज स्वयं उपस्थित रहकर इस काम की देखभाल करते हैं. फौज ने भी इस कार्य में अपना योगदान दिया है और अपनी कुछ खुदाई-मशीनें भी दी हैं. नागरिक और फौज के मिलेजुले सहकार्य का यह एक अनोखा उदाहरण है.

गाद निकाल बाहर करने का यह काम पूरा होनेपर उसके आसपास की जगह साफ कर के उसे सुशोभित करने का ट्रस्ट ने फैसला किया है. नागरिकों के टहलने के लिये एक प्राकृतिक सौंदर्य से भरी जगह बनाने का इरादा है. परिंदों को आमंत्रित करनेवाले पेड यहाँ लगाए जाएँगे. इस काम के लिये सरकार की इजाजत भी ट्रस्ट ने ले रखी है. साधारणत: ’सरकारी काम’ के नामपर टाला जानेवाला इस प्रकार का यह काम, याने सामान्य जन और सार्वजनिक संस्थाओं ने मिलकर जिम्मेदारी उठाने का एक उत्तम उदाहरण कहा जा सकता है. भविष्य में इस काम को एक आदर्श के रूप में देखा जाएगा., इस में कोई संदेह नहीं.

  • agdusheth-ganpati-water-conservation-initiative-1
    पाणी बचत प्रकल्प २०१५
  • Dagdusheth-ganpati-water-conservation-initiative-2
    पाणी बचत प्रकल्प २०१५
  • Dagdusheth-ganpati-water-conservation-initiative-3
    पाणी बचत प्रकल्प २०१५
  • Dagdusheth-ganpati-water-conservation-initiative-5
    पाणी बचत प्रकल्प २०१५
  • Dagdusheth-ganpati-water-conservation-initiative-4
    पाणी बचत प्रकल्प २०१५
  • Dagdusheth-ganpati-water-conservation-initiative-6
    पाणी बचत प्रकल्प २०१५
  • Dagdusheth-ganpati-water-conservation-initiative-8
    पाणी बचत प्रकल्प २०१५